Comments

समर्थक

शनिवार, 26 जून 2010

भाई साहब गिफ्ट पसंद आया ?

Posted by at 9:11 am Read our previous post
और क्या हाल है ...........सब मस्त .............अरे..... वह गिफ्ट पसंद आया है नहीं ??


क्या कहा .................कौन सा गिफ्ट !!??

अरे वही जो आज मिला है ................

नहीं समझे ...........

हद करते हो आप भी ...............

आज कौन सा दिन है ........??

नहीं याद ..............कोई बात नहीं ............मैं हूँ ना ............अभी बताता हूँ !

आज से ठीक ३५ साल पहले तब की 'सरकार' ने देश भर में इमरजेंसी लगाई थी और आज के दिन अब की 'सरकार' ने उस इमरजेंसी की वर्षगाँठ पर जनता के बजट पर इमरजेंसी लगाई है या यह कहे कि जनता को एक 'महँगा' गिफ्ट दिया है |

तो क्या मैं गलत पूछ रहा हूँ कि गिफ्ट पसंद आया या नहीं !! नहीं ना |
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------

यह तो शायद सरकार भी नहीं जानती कि वह कर क्या रही है और हो क्या रहा है ?

"कांग्रेस का हाथ जनता के साथ" या यह कहे कि यह हाथ जनता के गाल पर पड़ता है हर बार |

--------------------------------------------------------------------------------------------------------------

जागो सोने वालों................

10 टिप्‍पणियां:

  1. आपने बिलकुल सही कहा...जनता ने कांगेस पर विश्वास कर...उसे बहुमत में ला ..सरकार बनाने का मौका दिया और उसी ने जनता के साथ विश्वासघात कर...धोखा दे...उसे छला है...

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहुत सही लिखा आपने . गिफ़्ट तो सही दिन पर दिया .

    उत्तर देंहटाएं
  3. वाह!! बढिया तमाचा है ये तो. अब सचमुच " आसमान को छूना" मुहावरा बढती मंहगाई ने सिद्ध कर दिया है.

    उत्तर देंहटाएं
  4. जनता के भाग्य में है बस अपना गाल सहलाते रहना ... सुन्दर प्रस्तुति !
    शुभकामनाओ के लिए धन्यवाद !

    उत्तर देंहटाएं
  5. अच्छा आइना दिखाया आपने...लाजवाब.


    ***************************
    'पाखी की दुनिया' में इस बार 'कीचड़ फेंकने वाले ज्वालामुखी' !

    उत्तर देंहटाएं
  6. कांग्रेस का हाथ जनता के साथ" या यह कहे कि यह हाथ जनता के गाल पर पड़ता है हर बार |

    सही कहा है।

    उत्तर देंहटाएं
  7. गाल पर तो शायद बहुत से भारतीयों को चल जाता। स्कूल के दिनों से ही गाल को हाथ का अभ्यास होता है किन्तु जेब और हाथ का रिश्ता किसी को नहीं सुहाता।
    घुघूती बासूती

    उत्तर देंहटाएं
  8. आपने बिलकुल सही कहा...जनता ने कांगेस पर विश्वास कर...उसे बहुमत में ला ..सरकार बनाने का मौका दिया और उसी ने जनता के साथ विश्वासघात कर...धोखा दे...उसे छला है...

    उत्तर देंहटाएं
  9. interesting blog, i will visit ur blog very often, hope u go for this website to increase visitor.Happy Blogging!!!

    उत्तर देंहटाएं

आपकी टिप्पणियों की मुझे प्रतीक्षा रहती है,आप अपना अमूल्य समय मेरे लिए निकालते हैं। इसके लिए कृतज्ञता एवं धन्यवाद ज्ञापित करता हूँ।

Labels

© जागो सोने वालों... is powered by Blogger - Template designed by Stramaxon - Best SEO Template